एसटीएफ: गिरहबान में नहीं झांका, पत्रकार पर घुड़की

: तनिक एसटीएफ की “हेकड़ी” देखो : डीजीपी को भी तो लपेट लो न, पत्र तो सीधे डीजीपी को ही गया था : बेशर्म पत्रकार संगठन दुबके छिपे हैं : पूर्व सांसद धनंजय सिंह भी सह-आरोपी :  कुमार सौवीर लखनऊ : एसटीएफ की कार्यशैली को परखना हो तो सीधे राजधानी के विभूति खंड थाना में […]

आगे पढ़ें

दो हफ्ते बाद जय पर मुकदमा, कानून ठेंगे पर

: विकास दुबे कांड, हाथ पर हाथ रखे बैठा रहा कानून : पहले छोड़ा, फिर दबोचा, फिर इनकम टैक्‍स के हवाले किया, अब जेल की तैयारी : दोलत्‍ती संवाददाता कानपुर : आखिरकार 15 दिनों बाद पुलिस ने जय बाजपेई का चालान कई धाराओं में कर ही डाला है। उस पर हत्‍या और षडयंत्र रचने की […]

आगे पढ़ें

तुम निरा मूर्ख हो, या शातिर हत्‍यारे ?

: जिसमें विकास को बिठाया था एसटीएफ ने, वह टाटा सफारी स्‍टार्म थी : विकास की गाड़ी पलट गयी, जिससे विकास भागा। लेकिन पलटी थी महेंद्रा टीयूवी गाड़ी : रास्‍ते में बारिश हुई या नहीं, पुलिस पर सवालों के ओले जरूर दगेंगे : कुमार सौवीर लखनऊ : यूपी पुलिस ने अपनी नाक बचाने के लिए […]

आगे पढ़ें

बधाई हो पुलिसवालों ! विकास दुबे को तुमने मार डाला

: एमपी में सुरक्षित पहुंच गया था विकास दुबे, यूपी में मार डाला गया : कानपुर अपनी बेहद घिसी-पिटी कहानी दोबारा सुना रही है यूपी की पुलिस : कुमार सौवीर लखनऊ : कल गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर में आत्‍मसमर्पण करने के बाद ही तय हो गया था कि यूपी की बहादुर पुलिस विकास […]

आगे पढ़ें

होत्‍तेरी की: शहीद सीओ का पत्र पुलिस दफ्तर से गायब

: यह पत्र सीओ ने तब के एसएसपी अनंत देव तिवारी को लिखा था : विकास दुबे का गहरा रिश्‍ता राजनीतिक लोगों के साथ पुलिस के आला अफसरों से भी गहरा और घनिष्‍ठ था : दोलत्‍ती संवाददाता कानपुर : अब तो गजब होता जा रहा है। दुर्दान्‍त अपराधी विकास दुबे के साथ पुलिस की गलबहियों […]

आगे पढ़ें

… मगर पुलिस में बेमिसाल और नायाब थे श्रीराम अरूण

: एक आदर्श पुलिसवाला, जो अब शायद साकार ने हो पाये : घोर जातीयता का आरोप तो खूब लगे, लेकिन श्रीराम अरूण ने अपने सरकारी दायित्‍वों में कोई पक्षपात नहीं किया : पुलिसिंग के दायित्‍वों पर लाजवाब समझदारी : कुमार सौवीर लखनऊ : आज के दौर का कोई पुलिसवाला होता, तो उस विशाल भवन को […]

आगे पढ़ें

तब पकड़े जाने पर चोर ने थूक कर चाटा था, आज वे सारे चोर हड़ताल पर चले गये

: लखनऊ के जितने भी चोर-लुटेरे पेट्रोल-पम्‍प मालिक हैं, आज पुलिस कार्रवाई के खिलाफ हड़ताल पर गये : पचास साल पहले बहराइच के जरवल रोड में हुई घटना मेरे जेहन में ताजा है : देख लो साहब, मैंने थूक कर चाट लिया है माई-बाप : कुमार सौवीर लखनऊ : मुझे खूब याद है अपना बचपन। […]

आगे पढ़ें

चरित्रहीन जनता: अरे कसम खाओ कि चोर पेट्रोल-पंपों पर थूकोगे भी नहीं

: 70 लाख की आबादी वाले लखनऊ में दस लोग भी चोर पेट्रोल-पंप मालिकों के सामने नहीं जुटे जो ताल ठोंकते : कम से कम दस फीसदी की घटतौली कर रहे थे यह पम्‍प-मालिक, अब सीनाजोरी कर हड़ताल पर गये :  अब जनता ही तय करे कि व न कायर है, न का-पुरूष, और न […]

आगे पढ़ें

साहब का क्या। चरित्र में गिरें या बाथरूम में, क्या फर्क ?

: क्या मैं झूठ बोल्या, क्या मैं कुफर बोल्या : हार जैसे हठों की सुरभि-सुगन्धि बेहद दूर तक पहुंची, पहले से भी थी : एनडी तिवारी के दरवाजे पर सैंडविच की तरह झुके हुए थे आईएएस बाबूराम : अपनी जीत के लिए दूसरों की हार में पलटने में माहिर हैं बेशकीमती हार वाले लोग : […]

आगे पढ़ें