संविदा-सेवा बनाम स्‍त्री: डरावनी नजीर है मोहनलालगंज कांड

: तिल-तिल दम तोड़ती युवतियों का घटिया मृत्‍यु-द्वार है संविदा पर सरकारी नौकरी : समाज सम्‍भालने के साथ ही परिवार पालने की मजबूरी दबंग और सशक्‍त लोगों का चारा बन जाती है : संविदा-एक : कुमार सौवीर लखनऊ : सन-2014 की 17 जुलाई रविवार की सुबह लखनऊ में पीजीआई के पास मोहनलालगंज के एक प्राइमरी […]

आगे पढ़ें

पुलिस ने जिस लाश को वेश्‍या कहा, मैं उसे बिटिया कहता हूं

: राजधानी में मिली थी एक युवती की रक्‍तरंजित नंगी लाश : नवनीत सिकेरा व सुतापा सान्‍याल ने बिखेरीं यूपी की बेटियों की नंगी लाशें : कोई भी महिला अब सुतापा सान्‍याल को आदर्श न मानेगी : कुमार सौवीर लखनऊ : मोहनलालगंज में एक साल पहले एक युवती की पाशविक हत्‍या के बाद अब यूपी […]

आगे पढ़ें

मामले खोलने नहीं, दफ्न करने में माहिर हैं नवनीत सिकेरा

: पत्रकारों के एक खेमे ने घोड़े खोले नवनीत सिकेरा के प्रोजेक्‍शन में : 1090 की योजना थी अलंकृता की, झटका सिकेरा ने : महिला की नंगी लाश के मामले में अखिलेश-प्रिय सिकेरा ने खूब किया ड्रामा : कुमार सौवीर लखनऊ : नवनीत सिकेरा। सपा-सरकार में सिरमौर। प्रदेश में आईजी। राजनीतिक और प्रशासनिक हलके में […]

आगे पढ़ें

सचिवालयकर्मी थी कल्‍पना, 1090 से गुहार करती रही, मार डाली गयी

: वीमन हेल्‍पलाइन 1090 के भरोसे में ही आत्‍महत्‍या पर मजबूर हो चुकी है एक मेडिकल छात्रा : पिछले बरस इसी पखवाड़े 1090 की उदासीनता ने छीन ली दो युवतियों के जान : राजधानी की युवतियां तक असुरक्षित, बाकी जगह हालत भयावह : कुमार सौवीर लखनऊ : सचिवालय की एक कर्मचारी कल्‍पना की लाश बरामद […]

आगे पढ़ें

पुलिस में लैमारी व झपटमारी का चोखा धंधा 1090 वीमेन हेल्‍प लाइन

: जोशीली अलंकृता सिंह के नायाब प्रोजेक्‍ट को झपट लिया पुलिस के मुंहलगे अफसरों ने : महिला सहायता सेल, यानी रंगमंच पर हवा में तलवार भांजते विदूषक की दिलचस्‍प अदायें : कुमार सौवीर लखनऊ: दोस्‍तों, यह हादसा उस एक खुशनुमा प्रयास की दुर्गति-परिणति है, जो आज 1090 वीमेन हेल्‍प लाइन के तौर पर कुख्‍यात होता […]

आगे पढ़ें

होशियार। वर्ना मासूम बच्चियों को तो कच्‍चा चबा डालेंगे यूपी के जुल्‍फी अफसर, पुलिस, नेता और पत्रकार

: अपने हाथों में कालिख मल कर अपने ही चेहरा काला करने पर आमादा है जौनपुर के पत्रकार : 1090 कैम्‍प नाच और नाटक तो खूब हुआ, मगर महिलाओं के अत्‍याचार पर एक भी सवाल नहीं उठाने की हिम्‍मत नहीं जुटा पाये पत्रकार : पत्रकारों में साहस नहीं, लेकिन एक पत्रकार की नवजात बच्‍ची ने […]

आगे पढ़ें