आओ वक्‍त रहते शिकवे-गिले मिटा लें… क्‍या पता ! कल हो, न हो

: न जाने कौन कब हमारी जिन्‍दगी की किताब से अपना पन्‍ना फाड़ कर चला जाए : कई बार खबरें जब रोने पर मजबूर कर रही हैं : मैं खिड़की से दुहरे मास्‍क लगाकर प्‍लेट में सुबह-शाम ऐसे खाना डालती हूं मानो वह कोई अस्‍पृश्‍य हो: साशा सौवीर नई दिल्‍ली : ‘आज एक हंसी और […]

आगे पढ़ें

पत्रकारों का देवासुर-संग्राम आज। लड़ाई “सहगल” और “शलभ” में

: द्वापर की ही तरह है सत्‍य का युद्ध असत्‍य के साथ। कौन किससे मुंह की खायेगा : नकली सिक्‍के ढालने का टकसाल है हेमंत तिवारी : महिलाएं व नये नौजवान भी मैदान में : पढ़े-लिखे और शालीन ज्ञानेंद्र शुक्‍ला पत्रकारिता के सच्‍चे सेनानी : कुमार सौवीर लखनऊ : पात्र बदल गये हैं और कुछ […]

आगे पढ़ें

काश ! मैं मर जाता, तो महान बाप बन जाता

: आज पापा की पुण्‍य-तिथि है : अच्‍छा ही रहा कि पापा 53 बरस की उम्र में दिवंगत हो गये : मौत हमेशा संदेहों, संशयों व शिकवा-शिकायतों को खत्‍म करती है : पितृ-दायित्‍वों को निपटा कर जल्‍दी ही दुनिया से विदा हो जाओ, तो दुनिया कोर्निश करेगी : कुमार सौवीर लखनऊ : मेरे पापा, यानी स्‍वर्गीय सियाराम शरण […]

आगे पढ़ें

होशियार ! फर्जी खबर छापते हैं हिन्‍दी के अखबार

: हिन्‍दुस्‍तान ने तो फर्जी ऑपरेशन की फर्जी खबर ही छाप डाली : हिन्‍दुस्‍तान, अमर उजाला, या जागरण। विश्‍वसनीयता जूतों की नोंक पर : संपादन नहीं, खौ-खौ करता है अमर उजाला का सम्‍पादक तो : कुमार सौवीर लखनऊ : लखनऊ की पत्रकारिता में पत्रकार नहीं, बल्कि दलाल और ठेकेदारों का ही बोलबाला है। चाहे वह […]

आगे पढ़ें

वरना गणतंत्र पर कालिख पोतते ही रहेंगे बिकरू जैसे घृणित कांड

: एक ही तरीके से विकास दुबे के सात लोगों को मौत के घाट उतार दिया पुलिस ने : विकास को लेकर उज्‍जैन से रवाना हुई गाड़ी कानपुर में बदल गयी : सिपाही से लेकर आला पुलिस अफसर भ्रष्‍ट थे : कुमार सौवीर लखनऊ : कुख्‍यात बिकरू गांव से भड़की आग में काफी इज्‍जत बेनकाब […]

आगे पढ़ें

गणतंत्र दिवस: एनकाउंटर नहीं, सरासर कत्‍ल हैं बिकरू-करथिया जैसे हादसे

: सरकारी प्रश्रय में होने वाले ऐसी हत्‍याओं को बेनकाब करना जरूरी : बिकरू में तो पूरा महकमा ही नंगा हुआ : करथिया की बच्‍ची को झूठा दिलासा दे गया आईजी : कुमार सौवीर लखनऊ : करथिया में पुलिस ने एक बढई-दम्‍पत्ति ने कुछ बच्‍चों को अगवा कर लिया था और धमकी दी थी कि […]

आगे पढ़ें

एक किसान कुटुंब की औसत मासिक आय 1700 रु से कम

: सर्द सड़क पर रात बिता कर महसूस कीजिए किसान की पीड़ा : कॉरपोरेट-शुभचिंतकों के साथ इस कृषि विशेषज्ञ के विश्लेषणों की परख अनिवार्य : आनंद स्‍वरूप वर्मा नई दिल्‍ली : मौजूदा किसान आंदोलन के बारे में अपनी राय बनायें। इस समय इस आंदोलन पर बहुत सारे विश्लेषण आ रहे हैं लेकिन उन्हीं विद्वानों के […]

आगे पढ़ें

फर्क: गांधी ने आंदोलन रोका, नेताजी हिटलर के गले लगे

: हिंसा के पक्षधर रहे सुभाष सन-41 को जेल में गांधीवादी अनशन पर बैठ गये थे : मत भूलिये कि हिटलर से मिलने नेताजी जर्मनी तक चले गये थे : पर महान स्‍वतंत्रता सेनानी थे सुभाष जी : कुमार सौवीर लखनऊ : देश की आजादी में अग्रणी लेकिन स्‍वतंत्रता-आंदोलन में गरम-दल वाले गुट के महान […]

आगे पढ़ें

अर्णब जानता था कि जीजा हैं कोतवाल, फिर डर काहे का

: न पीएमओ के छिछोरेपन पर अचरज आ रहा है, और न ही महाराष्‍ट्र की सरकार अथवा पुलिस की सक्रिय पर : अर्णब समझ चुका था कि जीजा हैं कोतवाल, फिर डर काहे का : अर्णब-कांड- एक कुमार सौवीर लखनऊ : बालाकोट एयर-स्‍ट्राइक की पूर्व-सूचना थी अर्णब गोस्‍वामी के पास, तो इसमें आश्‍चर्य की क्‍या […]

आगे पढ़ें

इलाहाबादी वकील खौखियाये: जस्टिस चौहान ! गो बैक

: विकास दुबे एनकाउंटर पर इलाहाबाद हाईकोर्ट बार एसोसियेशन ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश को ठेंगा दिखाया : सवाल जजों की साजिशों का है या बार एसोसियेशन की करतूतों पर : 11 को इलाहाबाद आ रहा है चौहान-कमीशन : कुमार सौवीर लखनऊ : कानपुर के अपराधी विकास दुबे और उसके करीब आधा दर्जन साथियों के […]

आगे पढ़ें

बदायूं गैंगरेप : नवनीत सिकेरा तो चुटकियों में निपटा देंगे

: 17 जुलाई-14 वाले मोहनलालगंज कांड में सच का चेहरा ही काला कर दिया था सिकेरा ने : लखनऊ और निर्भया कांड जैसी ही दरिंदगी हुई बदायूं में : रॉड या सब्बल गुप्तांग में ठूंसा गया : कुमार सौवीर लखनऊ : बदायूं में गैंगरेप और हत्‍या के अलावा दिल्‍ली के निर्भया-कांड जैसा वहशियाना कांड हुआ […]

आगे पढ़ें

अमर उजाला: पहले गांजा, फिर बेसिर-पैर की खबर

  : मुख्‍यमंत्री के सूचना सलाहकार मुर्ग-मुसल्‍लम की तरह पेश कर दिया : रईस पर सहमति बनी, क्‍योंकि घोड़ा-सेवक सईस के साथ सिंह सरनेम अटपटा : बात करो तो खौखियाता है संपादक : कुमार सौवीर : लखनऊ : अरे नहीं। यह कोई गम्‍भीर अखबार नहीं है। गंजेडि़यों की टोली है। क्‍या सम्‍पादक और क्‍या रिपोर्टर […]

आगे पढ़ें

मितरों ! विकास के लिए अब ‘किसान मुक्त भारत अभियान’

: पहली बार हम खेतों में उगायेंगे सोने की बालियां : लोकतंत्र को मंत्रिमंडल तक सीमित किया जाएगा : भारत को ‘भ्रष्टाचार मुक्त’ और ‘कांग्रेस मुक्त’ के बाद अब विपक्ष मुक्‍त भारत बनायेंगे : देवेंद्र आर्य नई दिल्‍ली : मितरों ! आपको याद हो कि न याद हो हमने ‘भ्रष्टाचार मुक्त’ भारत का सपना पूरा […]

आगे पढ़ें

पूर्वांचल की फिजा में कौतूहल बना वीडियो

: ‘कामातुरों‘ की कर्मस्‍थली बना गोरखपुर का सर्किट हाउस : राज्‍यमंत्री के बेहद करीबी युवा नेता पर बनाया गया वीडियो, नेता लापता : अप्राकृतिक संबंधों की इस नयी आंधी ने फिराक गोरखपुरी का पुनर्जन्‍म करा दिया : दोलत्‍ती संवाददाता गोरखपुर : आजकल एक वीडियो किसी आंधी-तूफान की तरह पूर्वांचल की फिजां में वायरल हो रहा […]

आगे पढ़ें

धान एमएसपी: दावा 30 का, खरीद 13 में, बिक्री 22 पर

: सरकारी दरियादिली से 22 में बिका 30 रु का चावल : व्‍यापारियों ने किसानों से किस भाव धान खरीदा था चीन भेजने के लिए : सरकार राग अलापती रही एमएसपी का, लूटे गये किसान : कुमार सौवीर लखनऊ : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के नेतागण एकसुर में किसानों को दिलासा दे रहे हैं […]

आगे पढ़ें