दुराचार में पकडा गया बडे पत्रकारों का बडा दलाल

दोलत्ती

: यूपी राज्य मुख्यालय में मान्यताप्राप्त पत्रकार कतील शेख दुराचार में पकडा गया : दो पत्नी, तीन बच्चे। तीसरी को शादी का झांसा : पत्रकारों के बडे गिरोह में अहम था कतील शेख, जेल भेजा :

कुमार सौवीर

लखनउ : जवानी का जोश तो स्वाभाविक होता है। उसमें हौसले होते हैं, खतरे उठाने का साहस होता है। कुछ नया कर डालने का जज्बा होता है और डर कम से कम ही होता है।

लेकिन ऐसा तब होता है, जब जवानी मौजूद हो। मगर कुछ लोग तो जवानी को अपना धंधा ही मान कर सत्ता पर काबिज बडे नेताओं और अफसरों को संतुष्ट करने के लिए उपकरणों की उपलब्धियों मुहैया कराने में अपना जीवन ध्येय मान लेते हैं। जाहिर है कि ऐसे लोग सफलताओं की नयी:नयी लेकिन अनैतिक मंजिलों पर तेजी के साथ चढते रहते हैं। अब यह दीगर बात है कि ऐसे लोगों में कुछ लोग अचानक मुंह के बल धडाम होकर बिलकुल नंगे हो जाते हैं।

ऐसे ही एक धंधेबाज को आज पुलिस ने दबोच लिया। एक युवती दवारा लिखाये गये एक मुकदमे के बाद गोमती नगर ने मोहम्मद कतील शेख को गिरफतार कर उसे जेल भेज दिया है। बताते हैं​ गर्म:गोश्त बेचने वालों के धंधेबाजों की दुनिया का एक सिरमौर रहा है मोहम्मद कतील शेख। मूलत: जौनपुर के मीर मस्त मोहल्ले के एक गरीब परिवार में जन्मा मोहम्मद कतील शेख ने पिछले 16 बरसों के दौरान करीब सौ करोड रुपयों की हैसियत हासिल कर ली है। तब यूपी में समाजवादी पार्टी का साम्राज्य हुआ करता था। तब अपनी राजनीतिक और प्रशासनिक क्षेत्रों में अपनी गहरी घुसपैठ का खुला इस्तेमाल किया मोहम्मद कतील शेख ने। कतील ने विज्ञापन के नाम पर सरकारी खजाने में जमकर लूटा। अनुमान सिर्फ इसी तथ्य से समझा जा सकता है कि कतील ने करीब बीस करोड रुपये तो प्रदेश के महज दस महानगरों के विभिन्न सार्वजनिक स्थलों पर विशालकाय टीवी स्क्रीन लगवाया था।

ऐसी स्क्रीन का मकसद खास कर सरकारी अथवा राजनीतिक प्रचार में ही इस्तेमाल किया जाता है। अब यह दीगर बात है कि यह सारे टीवी स्क्रीन और उसके सारे उपकरण अब खराब हो चुके हैं। कारण यह कि इस खरीद में बडा टेंडर मांगा गया था। तय शुदा तरीके से यह निविदा खोली जा रही थी, तो उसमें मोटी रकम करेंट एकाउंट में जमा करने के औचित्य का जवाब ही नहीं मिल पा रहा है। जैसी कि आशंका थी, चंद महीनों में ही यह स्क्रीन ही खराब हो गयी।

लेकिन आज अचानक इस मोहम्मद कतील शेख को लखनउ के गोमती नगर पुलिस ने एक शिकायत पर गिरफतार कर लिया है। रिपोर्ट लिखायी है 24 बरस की शिवानी नामक एक युवती ने। गौरतलब है कि कतील शेख की उम्र करीब 52 बरस बताया जाता है। शिवानी ने अपनी शिकायत में बताया कि वह गरीब परिवार की है, और पिछले दो बरसों से कोई उचित काम खोजने के लिए जहां:तहां भटक रही थी। इसी बीच उसकी मुलाकात कतील शेख से हुई। उसने नौकरी का झांसा देते हुए उसे कोई पेय पदार्थ दिया। जिससे वह बेहोश हो गयी। उसके दौरान कतील शेख ने उस युवती के साथ दुराचार किया।

बेहोशी टूटने के बाद शिवानी ने कतील शेख को खूब खरीखोटी सुनायी, लेकिन कतील शेख ने उससे किया कि वह शिवानी से शादी कर लेगा। इसी बीच शिवानी के साथ्ज्ञ कई बार मारपीट हुई, तो शिवानी ने आखिरकार आज मुकदमा दर्ज ही करा दिया।

आपको बता दें कि उप्र मान्यताप्राप्त पत्रकारों को मान्यता तो सीधे राज्य के सूचना निदेशक ही देते हैं। सूत्रों के अनुसार सूचना विभाग के एक उप निदेशक ने भी कतील शेख की जमकर उसको विज्ञापन और  निविदाएं भी खूब दिलवायी गयी थीं।

पत्रकारिता का सिंहनाद करने वाले मोहम्मद कतील शेख पर दोलत्ती डॉट कॉम नाम के केंद्रिक समाचार श्रंखला 31 अगस्त:20 की शाम से ही प्रसारित की जाएगी। अगले अंक का शीर्षक होगा:

पांच अखबार का मालिक पांचवीं पास। धंधा होलसेल

 

4 thoughts on “दुराचार में पकडा गया बडे पत्रकारों का बडा दलाल

  1. अवनीश कुमार भट्ट एडवोकेट हाईकोर्ट आफ उत्तर प्रदेश says:

    बहुत अच्छा और निष्पक्ष लिखते है आप भाई 💐💐

    1. शुक्रिया मेरे दोस्त
      तारीफ करने का भी शुक्रिया

  2. बाकी खबर तो ठीक है और आपके बेबाक लेखनी के अंदाज़ से हम लोग परिचित है। लेकिन युवती का नाम लिखना गलत है। इसे निकाल दें तो बेहतर होगा।

  3. आपने खबर को निष्पक्ष रूप से लिख कर जता दिया कि अपना भाई भी अगर कुछ गलत करता है तो उस खबर को भी जोरदारी तरीके से लिखा जाय इसके लिए आप बधाई के पात्र है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *